MP 7 NEWS

Search
Close this search box.

Bell paper : ऐसे उगाए गमले में शिवजी का प्रिय बेलपत्र…पढ़िये।

भगवान शिव (Lord Shiva) को बेल पत्र अत्यंत प्रिय है। इसको समर्पित करके भगवान शिव को प्रसन्न किया जा सकता है। भगवान शिव के बेल पत्र को बालकनी (balcony) में भी लगा सकते है। और भगवान शिव को चढ़ा सकते है।
बेल का पौधा रेतीली, पथरीली मिट्टी में उगता है इसलिए रेतीली, पथरीली मिट्टी ले। बेल का पौधा (vine plant) लगाने के लिए बीज (seed) का उपयोग करे और बीज को मिट्टी में दबा दे और गमले को धुप में रखे।
बेल के पौधे को कम पानी जरूरत होती है। इसलिए कम पानी का छिड़काव करे।
गर्मी के मौसम (summer season) में बेल के पौधे को पानी की जरूर नही पड़ती है किन्तु सर्दियो (winter) में बेल के पौधे को सप्ताह में दो बार पानी दे। बेल के पौधे के लिए 2 से 45 डिग्री का तापमान अच्छा रहता है।
मिट्टी में बीज दबाने के 10 – 12 दिन बाद मिट्टी से अंकुरण निकलते दिखाई देने लगेगा। एक महीने के भीतर बेल का पौधा ग्रोथ करेगा। आप इसकी पत्तियो का इस्तेमाल कर सकते है।
घर में बेल का पौधा उत्तर पूर्व दिशा (north east direction) में लगाना शुभ माना जाता है। जिससे नकारात्मक ऊर्जा (negative energy) दूर होती है।

यह जानकारी सामान्य मान्यताओ पर आधारित है। mp7news चैनल इसकी पुष्टि नही करता है।

MP7 News
Author: MP7 News

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज